Sho Suspended And Co Removed In Gagaha Double Murder Case Gorakhpur – गगहा डबल मर्डर: थानेदार निलंबित, हटाए गए सीओ, जांच को दो एसपी करेंगे कैंप


अमर उजाला नेटवर्क, गोरखपुर।
Published by: vivek shukla
Updated Fri, 02 Apr 2021 11:19 AM IST

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

गोरखपुर जिले के गगहा इलाके में बुधवार की रात हुए दोहरे हत्याकांड के बाद एसएसपी दिनेश कुमार पी ने वहां के थानेदार राज प्रकाश सिंह को निलंबित कर दिया है। राज प्रकाश के विरुद्ध जांच के भी आदेश दिए हैं।

सीओ बांसगांव जगत राम कनौजिया को भी हटा दिया गया है। सीओ कनौजिया को सीओ यातायात बनाया है तथा गोला में रहे श्यामदेव को सीओ बांसगांव बनाया गया है। जबकि अब तक सीओ यातायात रहे अनिल कुमार सिंह को सीओ गोला बनाया गया है।

गगहा में बीस दिन के भीतर हत्या की तीन घटनाओं ने पुलिस अफसरों की नींद उड़ा दी है। रंगदारी, लूट, प्रॉपर्टी विवाद या हत्या की कोई अन्य वजह, इसकी जांच के लिए एसपी साउथ और एसपी क्राइम को एसओजी टीम के साथ गगहा में कैंप करने का निर्देश दिया गया है।

एडीजी अखिल कुमार ने घटना के पर्दाफाश होने तक इन लोगों को वहीं पर रहने का आदेश दिया है। वहीं रितेश मौर्या और शंभू के हत्या के बीच कोई संबंध तो नहीं, पुलिस खंगाल रही है। खबर है कि पुलिस रितेश और शंभू दोनों ही हत्या में पूरी तरह से खाली हाथ है।

जानकारी के मुताबिक, दस मार्च को रितेश मौर्या और फिर बुधवार को शंभू मौर्या व उसके कर्मचारी संजय पांडेय की गोलियों से भूनकर की गई हत्या ने पुलिस के इकबाल पर सवाल खड़ा कर दिया है। दोनों ही वारदात दुस्साहसी तरीके से की गई हैं। रितेश मौर्या की भी सड़क पर गोलियों से भूनकर हत्या की गई थी। रितेश की हत्या के बाद 23 दिन से अधिक का समय गुजर चुका है, लेकिन अभी तक पुलिस कोई भी वजह तलाश नहीं पाई है।

अब फिर से उसी अंदाज में हत्या कर बदमाश फरार हो गए। एडीजी अखिल कुमार ने बताया कि दुकान बंद होते समय वारदात होने की वजह से लूट के बिंदु पर भी जांच की जा रही है। इसके अलावा रंगदारी, प्रॉपर्टी विवाद व अन्य पहलू पर जांच जारी है, जल्द ही पुलिस किसी नतीजे पर पहुंचेगी। एसपी साउथ, एसपी क्राइम को घटना का पर्दाफाश होने तक वहीं पर कैंप करने का निर्देश दिया गया है। एसपी साउथ को चुनावी कामकाज से मुक्त कर दिया गया है।

 

गोरखपुर जिले के गगहा इलाके में बुधवार की रात हुए दोहरे हत्याकांड के बाद एसएसपी दिनेश कुमार पी ने वहां के थानेदार राज प्रकाश सिंह को निलंबित कर दिया है। राज प्रकाश के विरुद्ध जांच के भी आदेश दिए हैं।

सीओ बांसगांव जगत राम कनौजिया को भी हटा दिया गया है। सीओ कनौजिया को सीओ यातायात बनाया है तथा गोला में रहे श्यामदेव को सीओ बांसगांव बनाया गया है। जबकि अब तक सीओ यातायात रहे अनिल कुमार सिंह को सीओ गोला बनाया गया है।

गगहा में बीस दिन के भीतर हत्या की तीन घटनाओं ने पुलिस अफसरों की नींद उड़ा दी है। रंगदारी, लूट, प्रॉपर्टी विवाद या हत्या की कोई अन्य वजह, इसकी जांच के लिए एसपी साउथ और एसपी क्राइम को एसओजी टीम के साथ गगहा में कैंप करने का निर्देश दिया गया है।

एडीजी अखिल कुमार ने घटना के पर्दाफाश होने तक इन लोगों को वहीं पर रहने का आदेश दिया है। वहीं रितेश मौर्या और शंभू के हत्या के बीच कोई संबंध तो नहीं, पुलिस खंगाल रही है। खबर है कि पुलिस रितेश और शंभू दोनों ही हत्या में पूरी तरह से खाली हाथ है।

जानकारी के मुताबिक, दस मार्च को रितेश मौर्या और फिर बुधवार को शंभू मौर्या व उसके कर्मचारी संजय पांडेय की गोलियों से भूनकर की गई हत्या ने पुलिस के इकबाल पर सवाल खड़ा कर दिया है। दोनों ही वारदात दुस्साहसी तरीके से की गई हैं। रितेश मौर्या की भी सड़क पर गोलियों से भूनकर हत्या की गई थी। रितेश की हत्या के बाद 23 दिन से अधिक का समय गुजर चुका है, लेकिन अभी तक पुलिस कोई भी वजह तलाश नहीं पाई है।

अब फिर से उसी अंदाज में हत्या कर बदमाश फरार हो गए। एडीजी अखिल कुमार ने बताया कि दुकान बंद होते समय वारदात होने की वजह से लूट के बिंदु पर भी जांच की जा रही है। इसके अलावा रंगदारी, प्रॉपर्टी विवाद व अन्य पहलू पर जांच जारी है, जल्द ही पुलिस किसी नतीजे पर पहुंचेगी। एसपी साउथ, एसपी क्राइम को घटना का पर्दाफाश होने तक वहीं पर कैंप करने का निर्देश दिया गया है। एसपी साउथ को चुनावी कामकाज से मुक्त कर दिया गया है।

 



Source link

Leave a Comment