Remdesivir injection black marketing: नर्सिंग स्टाफ को 2 रेमडेसिविर इंजेक्शन दिए… मरीज को नहीं लगाए गए… गैर इरादतन हत्या की FIR दर्ज

कानपुर
रेमडेसिविर इंजेक्शन कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है। रेमडेसिविर इंजेक्शन को लेकर कानपुर में एक चौकाने वाली घटना सामने आई है। कानपुर के कोविड स्टेट्स रामा अस्पताल के नर्सिंग स्टाफ सुमित वाजपेई को दो रेमडेसिविर इंजेक्शन संक्रमित मरीजों को लगाने के लिए दिए गए थे। सुमित वाजपेई ने संक्रमित मरीजों को इंजेक्शन नहीं लगाया, बल्कि रेमडेसिविर इंजेक्शन को अपने पास रख लिया।

कोरोना संक्रमित मरीज को रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं मिलने की वजह से एक मरीज की मौत हो गई थी। जब इस प्रकरण का खुलासा हुआ तो रामा अस्पताल के नोडल अधिकारी डॉ. दुष्यंत सिंह ने नर्सिंग स्टाफ सुमित वाजपेई पर बिठूर थाने में गैर इरादतन हत्या की एफआईआर दर्ज कराई है। वहीं, बिठूर पुलिस सुमित वाजपेई को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

अस्पताल प्रबंधन ने दिए थे रेमडेसिविर इंजेक्शन
बिठूर थाना क्षेत्र स्थित रामा अस्पताल में कोविड के लेवल-2 मरीजों का उपचार किया जाता है। कल्यानपुर गौतम विहार में रहने वाले रामगोपाल (70) और सिविल लाइंस के नितेश (22) रामा अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती थे। अस्पताल प्रबंधन ने नर्सिंग स्टाफ सुमित वाजपेई को दो रेमडेसिविर इंजेक्शन संक्रमित मरीजों को लगाने के लिए दिए थे, लेकिन सुमित वाजपेई ने संक्रमितों को रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं लगाया, उन्हें अपने पास रख लिए। रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं लग पाने की वजह से रामगोपाल (70) की तबीयत बिगड़ गई और उनकी मौत हो गई।

सिक्योरिटी गार्ड ने खोला राज
नर्सिंग स्टाफ सुमित वाजपेई मंगलवार दोपहर अपनी शिफ्ट खत्म होने के बाद घर जा रहा था। इसी दौरान अस्पताल के गेट पर सिक्योरिटी गार्ड ने सुमित वाजपेई की तलाशी ली, उसके पास से दो रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद हुए। सिक्योरिटी गार्ड ने फौरन इसकी सूचना अस्पताल प्रबंधन को दी। अस्पताल प्रबंधन ने हॉस्पिटल के नोडल अधिकारी और पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने सुमित वाजपेई को गिरफ्तार कर लिया।

गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज
अस्पताल के नोडल अधिकारी डॉ. दुष्यंत सिंह ने सुमित वाजपेई के खिलाफ बिठूर थाने में गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस सुमित वाजपेई से पूछताछ कर रही है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन का कहां इस्तेमाल करने वाला था। इस तरह से पहले भी इंजेक्शन की चोरी की है।

Navbharat times

Categories Kanpur

Leave a Comment