Melo Pearl: पत्‍नी के साथ खाना खा रहा था ट्रक ड्राइवर, हाथ लगा करोड़ों का ‘खजाना’!

‘यह दुर्लभ नारंगी मेलो मोती मेरा जीवन बदल सकता है’

मोती पाने से उत्‍साहित मोनथियान ने कहा, ‘मोती मिलने की खबर मिलते ही मेरा परिवार और आसपास के लोग उसे देखने के लिए इकट्ठा हुए और इस बात पर सहमत हुए कि उन्‍होंने ऐसा पत्‍थर पहले कभी नहीं देखा था। निश्चित रूप से पहले हम इस बात की जांच कराना चाहते हैं कि यह मोती अनमोल है या नहीं है लेकिन हमारा अनुमान कहता है कि यह हमें करोड़ों रुपये दिलवा सकता है।’ उन्‍होंने कहा, ‘मुझे इस बात की खुशी है कि मैंने इसे खरीदा था। यह मोती मेरा जीवन बदल सकता है। इससे पहले थाइलैंड के एक मछुआरे की किस्मत उस वक्त खुल गई थी जब एक बीच पर 2.5 लाख पाउंड यानी करीब 25 करोड़ रुपये का मेलो मोती उसके हाथ लगा था। हचाई को एक तट के पास एक buoy मिली थी जिस पर कई शेल (सीप) लगे थे। इनमें से तीन स्नेल शेल थे। हचाई और उनके भाई इसे लेकर घर गए और अपने पिता को दिया। शेल की सफाई के दौरान पिता ने मोती देखा।

मेलो मेलो समुद्री घोंघे से बनता है दुर्लभ नारंगी मोती

ये दुर्लभ नारंगी मोती सी स्नेल (समुद्री घोंघे) Melo Melo से बनता है और शेल में ही रहता है जबकि पारंपरिक मोती ओएस्टर्स के अंदर मिलते हैं। अगले दिन हचाई ने इस मोती की कीमता पता की और 7.68 ग्राम के रत्न को देखने के लिए उनके घर पर लोगों का तांता लग गया। हचाई का कहना है कि उन्हें कुछ दिन पहले ही एक सपना आया था जिसमें एक बुजुर्ग व्यक्ति उनसे तट पर जाकर तोहफा लेने के लिए कह रहा था। हचाई अब इस मोती को सबसे ज्यादा कीमत पर बेचना चाहते हैं। यह उनकी जिंदगी बदल सकता है और पूरे परिवार का जीवन हमेशा के लिए बेहतर कर सकता है। अब तक इस मोती के लिए खरीददार आ चुके हैं लेकिन हचाई ने इसे बेचा नहीं है। वह 2.5 लाख पाउंड से कम पर इसे बेचने को तैयार नहीं है। आखिरकार चीन के एक व्यापारी ने यह कीमत ऑफर की है लेकिन अभी इसे बेचा नहीं गया है। Melo मोती नारंगी से टैन, भूरे रंग के होते हैं। इनमें से सबसे महंगा मोती नारंगी ही होता है। हचाई को नाखो सि थमारत के थाइलैंड की खाड़ी के तट पर यह मोती मिला था।

India times

Leave a Comment