Ed Summons To Mmrda Commissioner Ra Rajeev In Topps Security Scam – टॉप्स सिक्योरिटी घोटाले में एमएमआरडीए आयुक्त आरए राजीव को ईडी ने भेजा समन 


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने टॉप्स सिक्योरिटी घोटाला मामले में मुंबई महानगर क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) के आयुक्त आरए राजीव को समन जारी कर मंगलवार दोपहर पेश होने को कहा है। एमएमआरडीए ने राहुल नंदा के टॉक्स ग्रुप को 175 करोड़ का ठेका दिया था जिसमें 7 करोड़ रुपए रिश्वत देने का आरोप है।
 
प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले में पिछले साल नवंबर में शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक के दफ्तर पर छापा मारा था। ईडी के अधिकारियों ने सरनाईक के बेटे विहंग सरनाईक को अपने दफ्तर लाकर लंबी पूछताछ भी की थी। ईडी ने सरनाईक के करीबी टॉप्स ग्रुप के साथ हुए कथित लेन देन के बारे में भी जानकारी हासिल की थी।

माना जाता है कि विधायक प्रताप सरनाईक ने ही एमएमआरडीए से टॉप्स सिक्योरिटी को ठेका दिलाया था। ईडी इस मामले में सरनाईक के करीबी अमित चंडोले को भी गिरफ्तार कर चुका है।

उसके साले योगेश चंडेगाला और उनके करीबी संकेत मोरे से भी पूछताछ की गई थी। ईडी ने टॉप्स ग्रुप के प्रबंध निदेशक एम शशिधरन को पहले ही गिरफ्तार किया था। पिछले दिनों राज कपूर के पौत्र रीमा जैन के बेटे अरमान जैन को भी ईडी ने समन किया था।

टॉप्स सिक्योरिटी के पूर्व कर्मचारी रमेश अय्यर का कहना है कि राहुल नंदा के टॉप्स ग्रुप ने साइट पर केवल 100 में से 70 फीसदी गार्ड तैनात किए जबकि 30 फीसदी गार्ड तैनात ही नहीं किए गए। लेकिन टॉप्स ग्रुप को एमएमआरडीए से पूरा पैसा मिला जिसमें से कुछ रकम अमित चंदोले और संकेत मोरे को दिया गया। अय्यर ने इस संबंध में 28 अक्तूबर को पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने टॉप्स सिक्योरिटी घोटाला मामले में मुंबई महानगर क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) के आयुक्त आरए राजीव को समन जारी कर मंगलवार दोपहर पेश होने को कहा है। एमएमआरडीए ने राहुल नंदा के टॉक्स ग्रुप को 175 करोड़ का ठेका दिया था जिसमें 7 करोड़ रुपए रिश्वत देने का आरोप है।

 

प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले में पिछले साल नवंबर में शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक के दफ्तर पर छापा मारा था। ईडी के अधिकारियों ने सरनाईक के बेटे विहंग सरनाईक को अपने दफ्तर लाकर लंबी पूछताछ भी की थी। ईडी ने सरनाईक के करीबी टॉप्स ग्रुप के साथ हुए कथित लेन देन के बारे में भी जानकारी हासिल की थी।

माना जाता है कि विधायक प्रताप सरनाईक ने ही एमएमआरडीए से टॉप्स सिक्योरिटी को ठेका दिलाया था। ईडी इस मामले में सरनाईक के करीबी अमित चंडोले को भी गिरफ्तार कर चुका है।

उसके साले योगेश चंडेगाला और उनके करीबी संकेत मोरे से भी पूछताछ की गई थी। ईडी ने टॉप्स ग्रुप के प्रबंध निदेशक एम शशिधरन को पहले ही गिरफ्तार किया था। पिछले दिनों राज कपूर के पौत्र रीमा जैन के बेटे अरमान जैन को भी ईडी ने समन किया था।

टॉप्स सिक्योरिटी के पूर्व कर्मचारी रमेश अय्यर का कहना है कि राहुल नंदा के टॉप्स ग्रुप ने साइट पर केवल 100 में से 70 फीसदी गार्ड तैनात किए जबकि 30 फीसदी गार्ड तैनात ही नहीं किए गए। लेकिन टॉप्स ग्रुप को एमएमआरडीए से पूरा पैसा मिला जिसमें से कुछ रकम अमित चंदोले और संकेत मोरे को दिया गया। अय्यर ने इस संबंध में 28 अक्तूबर को पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी।



Source link

Leave a Comment