हरियाणा : निर्मला सीतारमण के साथ मनोहर लाल की बैठक, केंद्र से सीएम ने मांगे पांच हजार करोड़


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़
Updated Mon, 18 Jan 2021 11:18 PM IST

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल हुए मनोहर लाल।
– फोटो : @mlkhattar

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने केंद्र सरकार से केंद्रीय बजट 2021-22 में हरियाणा को विभिन्न परियोजनाओं के लिए पांच हजार करोड़ दिए जाने की मांग की है। मुख्यमंत्री ने यह मांग सोमवार को दिल्ली में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई बजट पूर्व बैठक में हिस्सा लेने के दौरान उठाई।

बैठक में मुख्यमंत्री ने केंद्रीय वित्त मंत्री को हरियाणा की विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं के लिए वित्तीय आवश्यकताओं के बारे में अवगत करवाया। बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में मनोहर लाल ने कहा कि लघु सिंचाई परियोजनाओं और तालाबों के जीर्णोद्धार के लिए केंद्रीय बजट 2021-22 में हरियाणा को 1000 करोड़ और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के विकास के लिए 1000 करोड़ की रकम प्रदान करने की मांग की। इसके अलावा ग्रामीण विकास, कोविड-19 प्रबंधन, स्वास्थ्य व आधारभूत मेडिकल सुविधाओं के लिए 3000 करोड़ रुपये की मांग की। 

बजट पूर्व बैठक में हरियाणा वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद और वित्त विभाग के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने बताया कि हरियाणा में करीब दो हजार करोड़ का खर्च कोविड के दौरान हो चुका है। इस खर्च के लिए प्रदेश तैयार नहीं था लेकिन यह खर्च करना भी जरूरी था। हम तालाबों के जीर्णोद्धार पर भी काम कर रहे हैं। जिसके लिए बड़ी रकम की जरूरत है। इन्हीं सब आवश्यकताओं पर केंद्रीय नेताओं से बातचीत हुई है। उम्मीद है हरियाणा को बजट में बड़ी राहत मिलेगी, जिससे प्रदेश की रुकी हुईं विकास परियोजनाएं गति पकड़ेंगी।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने केंद्र सरकार से केंद्रीय बजट 2021-22 में हरियाणा को विभिन्न परियोजनाओं के लिए पांच हजार करोड़ दिए जाने की मांग की है। मुख्यमंत्री ने यह मांग सोमवार को दिल्ली में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई बजट पूर्व बैठक में हिस्सा लेने के दौरान उठाई।

बैठक में मुख्यमंत्री ने केंद्रीय वित्त मंत्री को हरियाणा की विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं के लिए वित्तीय आवश्यकताओं के बारे में अवगत करवाया। बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में मनोहर लाल ने कहा कि लघु सिंचाई परियोजनाओं और तालाबों के जीर्णोद्धार के लिए केंद्रीय बजट 2021-22 में हरियाणा को 1000 करोड़ और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के विकास के लिए 1000 करोड़ की रकम प्रदान करने की मांग की। इसके अलावा ग्रामीण विकास, कोविड-19 प्रबंधन, स्वास्थ्य व आधारभूत मेडिकल सुविधाओं के लिए 3000 करोड़ रुपये की मांग की। 

बजट पूर्व बैठक में हरियाणा वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद और वित्त विभाग के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने बताया कि हरियाणा में करीब दो हजार करोड़ का खर्च कोविड के दौरान हो चुका है। इस खर्च के लिए प्रदेश तैयार नहीं था लेकिन यह खर्च करना भी जरूरी था। हम तालाबों के जीर्णोद्धार पर भी काम कर रहे हैं। जिसके लिए बड़ी रकम की जरूरत है। इन्हीं सब आवश्यकताओं पर केंद्रीय नेताओं से बातचीत हुई है। उम्मीद है हरियाणा को बजट में बड़ी राहत मिलेगी, जिससे प्रदेश की रुकी हुईं विकास परियोजनाएं गति पकड़ेंगी।



Source link

Leave a Comment