विराट कोहली के अंपायर्स से लगातार ‘भिड़ने’ पर भड़के पूर्व इंग्लिश क्रिकेटर, लगाए गंभीर आरोप

क्रिकेट के मैदान पर अक्सर आक्रामक रहने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली को कई बार अंपायर के फैसले पर आपत्ति जताते हुए देखा गया है। यह वाकये पिछले कुछ समय से कई बार देखने को मिले हैं। उनके इस व्यवहार से परेशान होकर इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर डेविड लॉयड ने उनकी जमकर आलोचना की है। लॉयड ने विराट पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वे अंपायरों पर दवाब बनाने की कोशिश करते हैं। इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में खत्म हुई टी-20 सीरीज के दौरान भी विराट को सूर्यकुमार यादव को आउट दिए जाने पर अंपायर के फैसले पर आपत्ति जताते हुए देखा गया था। 

इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर ने ‘डेली मेल’ में लिखे अपने कॉलम में अंपायर के उस फैसले पर भी अपनी राय रखी, जब चौथे टी-20 मुकाबले में डेविड मलान ने सूर्यकुमार यादव का कैच पकड़ा था। उन्होंने कहा कि, ‘विराट को लगता है कि इस मैच में जब मलान ने सूर्यकुमार को कैच पकड़ा तो उस समय इंग्लैंड के सभी खिलाड़ी अंपायर पर दवाब बना रहे थे कि वे उस समय सॉफ्ट सिग्नल आउट दे दें। पहली बात तो यह है कि सॉफ्ट सिग्नल का नियम इसलिए है, क्योंकि इसकी वजह से मैदानी अंपायरों को ज्यादा अधिकार मिलते हैं।’

केएल राहुल बैकग्राउंड में दिखे गोद में बच्चा लिए, फैन्स ने किया नोटिस और किए कुछ ऐसे कमेंट्स

उन्होंने आगे कहा कि, ‘विराट को नहीं पता है कि इंग्लैंड के खिलाड़ी उस समय अंपायर पर सॉफ्ट सिग्नल आउट देने का दवाब डाल रहे थे या नहीं, लेकिन मैं यह मानता हूं कि विराट का अंपायरों के प्रति व्यवहार बहुत खराब था। वे अंपायर्स का अपमान कर रहे थे और उनसे बहस कर रहे थे।’

पूर्व क्रिकेटर ने इस मुद्दे पर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल(आईसीसी) की चुप्पी पर भी सवाल उठाए और पूछा कि वे क्यों टीम इंडिया और विराट कोहली पर मैदानों अंपायरों के प्रति खराब व्यवहार के लिए एक्शन नहीं ले रही है। उन्होंने कहा कि, ‘विराट जो कह रहे हैं कि अगर स्टम्प्स पर गेंद टकराती है तो बल्लेबाज को आउट देना चाहिए, तो फिर ऐसे में टेस्ट और वनडे को रोमांच एकदम खत्म हो जाएगा। ऐसा होने से टेस्ट दो दिन में और वनडे चार घंटे में ही खत्म हो जाएगा।’

चोट के चलते अय्यर ODI सीरीज से आउट, रोहित भी नहीं खेल पाएंगे अगला मैच

Hindustan news

Leave a Comment