युवा व शिक्षित हो ग्राम पंचायत प्रतिनिधि

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

महरुआ। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के विभिन्न पदों के लिए होने वाले मतदान की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है। इस दौरान सभी प्रत्याशी खुद की जीत सुनिश्चित करने के लिए मतदाताओं के दरवाजे पर दस्तक द रहे हैं। मतदाता भी अंतिम निर्णय लेने की तैयारी में है। इसे लेकर जगह-जगह मतदाता एकत्र होकर चुनावी चर्चा में मशगूल दिख रहे हैं। कोई युवा व शिक्षित प्रतिनिधि की बात कर रहा, तो कोई अनुभवी प्रतिनिधि होने पर जोर दे रहा।
महरुआ थाना अंतर्गत मानिकपुर बसाईपुर गांव में लगी चौपाल में जुटे ग्रामीण चुनावी चर्चा में मशगूल दिखे। ध्रुव सिंह फौजी व सुरेश ने कहा कि गांव की सरकार की बागडोर युवा व शिक्षित के हाथों में होना चाहिए, क्योंकि युवाओं के अंदर कुछ करने का जज्बा होता है। साथ ही वह पात्रों को योजनाओं का समुचित तरीके से लाभ भी दिला सकते हैं। पवन व छोटकू ने कहा कि गांव की सरकार की बागडोर अनुभवी हाथों में होना चाहिए। अनुभव के आधार पर ही वह ग्राम पंचायत का समुचित तरीके से विकास कर सकता है।

महरुआ। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के विभिन्न पदों के लिए होने वाले मतदान की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है। इस दौरान सभी प्रत्याशी खुद की जीत सुनिश्चित करने के लिए मतदाताओं के दरवाजे पर दस्तक द रहे हैं। मतदाता भी अंतिम निर्णय लेने की तैयारी में है। इसे लेकर जगह-जगह मतदाता एकत्र होकर चुनावी चर्चा में मशगूल दिख रहे हैं। कोई युवा व शिक्षित प्रतिनिधि की बात कर रहा, तो कोई अनुभवी प्रतिनिधि होने पर जोर दे रहा।

महरुआ थाना अंतर्गत मानिकपुर बसाईपुर गांव में लगी चौपाल में जुटे ग्रामीण चुनावी चर्चा में मशगूल दिखे। ध्रुव सिंह फौजी व सुरेश ने कहा कि गांव की सरकार की बागडोर युवा व शिक्षित के हाथों में होना चाहिए, क्योंकि युवाओं के अंदर कुछ करने का जज्बा होता है। साथ ही वह पात्रों को योजनाओं का समुचित तरीके से लाभ भी दिला सकते हैं। पवन व छोटकू ने कहा कि गांव की सरकार की बागडोर अनुभवी हाथों में होना चाहिए। अनुभव के आधार पर ही वह ग्राम पंचायत का समुचित तरीके से विकास कर सकता है।

amarujala

Leave a Comment