बैठक टली : अब 19 को नहीं 20 जनवरी को होगी केंद्र और किसानों के बीच वार्ता

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Mon, 18 Jan 2021 10:39 PM IST

किसान आंदोलन (फाइल फोटो)
– फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

किसान संगठनों और केंद्र सरकार के बीच 19 जनवरी को होने वाली बैठक अब 20 जनवरी को होगी। कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। यह बैठक दोपहर 2 बजे विज्ञान भवन नई दिल्ली में आयोजित की जाएगी। 

बता दें कि दोनों पक्षों के बीच पहले 19 जनवरी को बैठक होने वाली थी लेकिन अपरिहार्य कारणों से इसे स्थगित करना पड़ा। वहीं इससे पहले किसान संगठनों ने भी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर मार्च निकालने का एलान किया है। बता दें कि ट्रैक्टर मार्च को लेकर दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में याचिका दाखिल की है। लेकिन कोर्ट ने सुनवाई को 20 जनवरी तक के लिए टाल दिया है।

हालांकि आज की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में प्रवेश का सवाल कानून-व्यवस्था की विषय है और दिल्ली में कौन आएगा या नहीं, इसे दिल्ली पुलिस तय करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि प्रशासन को क्या करना है और क्या नहीं करना है, यह कोर्ट नहीं तय करेगा। 

किसान संगठन मार्च निकालने के लिए जिद पर अड़े
इससे पहले किसान संगठनों ने ट्रैक्टर मार्च को लेकर अपनी योजना बता दी है। सुप्रीम कोर्ट में 20 को सुनवाई से पहले ही किसान संगठनों ने कहा कि ट्रैक्टर मार्च को भगवान भी नहीं रोक सकते हैं। 26 जनवरी को हम दिल्ली में ट्रैक्टर मार्च करेंगे।

कृषि मंत्री तोमर ने की ट्रैक्टर रैली नहीं निकालने की अपील 
केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार को उम्मीद जताई कि प्रदर्शनकारी किसान संगठन दसवें दौर की वार्ता में नए कृषि कानूनों को वापस लेने के अलावा अन्य विकल्पों पर चर्चा करेंगे और उनसे अपील की कि दिल्ली में गणतंत्र दिवस के अवसर पर ट्रैक्टर रैली नहीं निकालें।

बता दें कि 41 कृषि संगठनों के साथ दसवें दौर की वार्ता होने वाली है। अभी तक की वार्ता में कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है क्योंकि आंदोलनकारी किसान संगठन जहां कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं वहीं सरकार ने इस तरह का कदम उठाने से इंकार कर दिया है। 

किसान संगठनों और केंद्र सरकार के बीच 19 जनवरी को होने वाली बैठक अब 20 जनवरी को होगी। कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। यह बैठक दोपहर 2 बजे विज्ञान भवन नई दिल्ली में आयोजित की जाएगी। 

बता दें कि दोनों पक्षों के बीच पहले 19 जनवरी को बैठक होने वाली थी लेकिन अपरिहार्य कारणों से इसे स्थगित करना पड़ा। वहीं इससे पहले किसान संगठनों ने भी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर मार्च निकालने का एलान किया है। बता दें कि ट्रैक्टर मार्च को लेकर दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में याचिका दाखिल की है। लेकिन कोर्ट ने सुनवाई को 20 जनवरी तक के लिए टाल दिया है।

हालांकि आज की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में प्रवेश का सवाल कानून-व्यवस्था की विषय है और दिल्ली में कौन आएगा या नहीं, इसे दिल्ली पुलिस तय करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि प्रशासन को क्या करना है और क्या नहीं करना है, यह कोर्ट नहीं तय करेगा। 

किसान संगठन मार्च निकालने के लिए जिद पर अड़े

इससे पहले किसान संगठनों ने ट्रैक्टर मार्च को लेकर अपनी योजना बता दी है। सुप्रीम कोर्ट में 20 को सुनवाई से पहले ही किसान संगठनों ने कहा कि ट्रैक्टर मार्च को भगवान भी नहीं रोक सकते हैं। 26 जनवरी को हम दिल्ली में ट्रैक्टर मार्च करेंगे।

कृषि मंत्री तोमर ने की ट्रैक्टर रैली नहीं निकालने की अपील 

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार को उम्मीद जताई कि प्रदर्शनकारी किसान संगठन दसवें दौर की वार्ता में नए कृषि कानूनों को वापस लेने के अलावा अन्य विकल्पों पर चर्चा करेंगे और उनसे अपील की कि दिल्ली में गणतंत्र दिवस के अवसर पर ट्रैक्टर रैली नहीं निकालें।

बता दें कि 41 कृषि संगठनों के साथ दसवें दौर की वार्ता होने वाली है। अभी तक की वार्ता में कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है क्योंकि आंदोलनकारी किसान संगठन जहां कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं वहीं सरकार ने इस तरह का कदम उठाने से इंकार कर दिया है। 

Hindustan

Leave a Comment