टिहरी झील महोत्सव 2021: सीएम आज करेंगे झील महोत्सव का शुभारंभ, नहीं जाएंगे पर्यटन मंत्री

टिहरी झील महोत्सव
– फोटो : फाइल फोटो

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

उत्तराखंड में आज टिहरी झील महोत्सव शुरू होने जा रहा है। टिहरी प्रभारी मंत्री डा. धन सिंह रावत ने कोटी कालोनी में शुरू होने वाले टिहरी झील महोत्सव की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने कहा झील महोत्सव का उद्देश्य टिहरी को विश्व स्तरीय साहसिक पर्यटन गंतव्य बनाना है। मेले का उद्घाटन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत दोपहर 11 बजे  करेंगे। मेले में एडवेंचर गतिविधियों के लिए आईटीबीपी और सेना के जवानों ने पूर्वाभ्यास किया। 

मंगलवार को चमोली आपदा के चलते टिहरी झील महोत्सव का सादगी से शुभारंभ किया जाएगा। मंत्री डा. रावत ने कहा कि मेला स्थल पर पहाड़ी शैली के घर देखने के लिए  बाहरी क्षेत्रों से बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचने की उम्मीद है। साहसिक खेलों की तैयारियों के तहत आईटीबीपी और बीएसएफ के जवानों ने हॉट एयर बलून,  पैरा-ग्लाइडिंग और पैरा जंपिंग का पूर्वाभ्यास किया।

वहीं यूथ हॉस्टल एसोसिएशन नई दिल्ली के सहयोग से देश के विभिन्न राज्यों से 14 सदस्य पर्यटकों का दल सोमवार को मॉडल होमस्टे विलेज तिवाड़ गांव पहुंचा। यूथ होस्टल के सीनियर ट्रैकिंग ऑफिसर नवीन चंद्र तिवारी ने बताया कि पर्यटकों ने होटल के  बजाए गांव के वातावरण में रहना पसंद किया। तिवाड़ गांव के नरेंद्र रावत ने बताया कि होमस्टे में रुकने के लिए पर्यटकों की काफी डिमांड आ रही है। इस  मौके पर डीएम इवा आशीष श्रीवास्तव, ओबीसी आयोग के अध्यक्ष संजय नेगी, भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़ी, डीसीबी के चेयरमैन सुभाष रमोला, गोविंद  रावत आदि मौजूद थे। 

टिहरी में मंगलवार से शुरू हो रहे टिहरी झील महोत्सव के उद्घाटन कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज नहीं जाएंगे। चमोली आपदा से आहत महाराज ने यह फैसला लिया है। विभाग की ओर से समारोह में मुख्यमंत्री को बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया है। फेस्टिवल के उद्घाटन के  लिए विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है। 

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि चमोली आपदा में कई लोग अपनी जान गवां चुके हैं। अभी भी टनल के अंदर बचाव व राहत कार्य जारी है। हर  रोज टनल से मृतकों के शव मिल रहे हैं। मैं आपदा से काफी आहत हूं। उन्होंने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए टिहरी झील महोत्सव में भाग लेने का कार्यक्रम स्थगित किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश भाजपा ने भी चमोली आपदा के चलते पार्टी के सभी कार्यक्रम 20 दिनों तक के लिए स्थगित  कर दिए हैं। 

बता दें कि पर्यटन विभाग और जिला प्रशासन के सहयोग से आयोजित हो रहे दो दिवसीय महोत्सव में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को के साथ ही कृषि एवं उद्यान मंत्री सुबोध उनियाल, उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत, सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह,  विधायक विजय सिंह पंवार, धन सिंह नेगी को निमंत्रण दिया गया।

उत्तराखंड में आज टिहरी झील महोत्सव शुरू होने जा रहा है। टिहरी प्रभारी मंत्री डा. धन सिंह रावत ने कोटी कालोनी में शुरू होने वाले टिहरी झील महोत्सव की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने कहा झील महोत्सव का उद्देश्य टिहरी को विश्व स्तरीय साहसिक पर्यटन गंतव्य बनाना है। मेले का उद्घाटन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत दोपहर 11 बजे  करेंगे। मेले में एडवेंचर गतिविधियों के लिए आईटीबीपी और सेना के जवानों ने पूर्वाभ्यास किया। 

मंगलवार को चमोली आपदा के चलते टिहरी झील महोत्सव का सादगी से शुभारंभ किया जाएगा। मंत्री डा. रावत ने कहा कि मेला स्थल पर पहाड़ी शैली के घर देखने के लिए  बाहरी क्षेत्रों से बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचने की उम्मीद है। साहसिक खेलों की तैयारियों के तहत आईटीबीपी और बीएसएफ के जवानों ने हॉट एयर बलून,  पैरा-ग्लाइडिंग और पैरा जंपिंग का पूर्वाभ्यास किया।

वहीं यूथ हॉस्टल एसोसिएशन नई दिल्ली के सहयोग से देश के विभिन्न राज्यों से 14 सदस्य पर्यटकों का दल सोमवार को मॉडल होमस्टे विलेज तिवाड़ गांव पहुंचा। यूथ होस्टल के सीनियर ट्रैकिंग ऑफिसर नवीन चंद्र तिवारी ने बताया कि पर्यटकों ने होटल के  बजाए गांव के वातावरण में रहना पसंद किया। तिवाड़ गांव के नरेंद्र रावत ने बताया कि होमस्टे में रुकने के लिए पर्यटकों की काफी डिमांड आ रही है। इस  मौके पर डीएम इवा आशीष श्रीवास्तव, ओबीसी आयोग के अध्यक्ष संजय नेगी, भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़ी, डीसीबी के चेयरमैन सुभाष रमोला, गोविंद  रावत आदि मौजूद थे। 


आगे पढ़ें

उद्घाटन में नहीं जाएंगे पर्यटन मंत्री

Source link

Leave a Comment