गांव से शराब की दुकान हटाई जाए

{“_id”:”6005c35c8ebc3e2e6d571241″,”slug”:”liquor-store-should-be-removed-from-the-village-ambedkar-nagar-news-lko5605352129″,”type”:”story”,”status”:”publish”,”title_hn”:”u0917u093eu0902u0935 u0938u0947 u0936u0930u093eu092c u0915u0940 u0926u0941u0915u093eu0928 u0939u091fu093eu0908 u091cu093eu090f”,”category”:{“title”:”City & states”,”title_hn”:”u0936u0939u0930 u0914u0930 u0930u093eu091cu094du092f”,”slug”:”city-and-states”}}

अंबेडकरनगर कलेक्ट्रेट के निकट शराब की दुकान को हटाने के लिए प्रदर्शन करते देवहट के ग्रामीण।
– फोटो : AMBEDKAR NAGAR

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

अंबेडकरनगर। टांडा कोतवाली क्षेत्र के देवहट गांव के ग्रामीणों ने सोमवार को शराब की दुकान हटाने को लेकर कलेक्ट्रेट के पास प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि गांव में संचालित शराब की दुकान से आए दिन असहज स्थिति उत्पन्न होती रहती है। स्कूल व मंदिर जाने वालों को शराब की दुकान के सामने से जाना पड़ता है। ऐसे में अक्सर नशे में धुत शराबी आवागमन करने वालों के साथ अभद्रता करते रहते हैं। शराब की दुकान हटाए जाने की मांग अरसे से की जा रही है, लेकिन जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं। ग्रामीणों ने चेतावनी कि यदि शीघ्र ही शराब की दुकान नहीं हटाई गई, तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। बाद में शिकायतीपत्र जिलाधिकारी को सौंपा।
जयप्रकाश के नेतृत्व में अनीता देवी, प्रभावती, राधा, सोना देवी, उर्मिला, मनीषा, राजकुमारी, शांति देवी, इंद्रावती, उर्मिला चौहान, गीता, रामकरन, रामलौट, परशुराम, अशोक कुमार, राधेश्याम आदि सोमवार को कलेक्ट्रेट के पास पहुंचे। प्रदर्शन करते हुए ग्रामीणों ने कहा कि गांव में स्थित शराब की दुकान को हटाए जाने की मांग अरसे से की जा रही है, लेकिन जिम्मेदारों की ओर से अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है। इसे लेकर जब भी जिम्मेदारों से शिकायत की जाती है, तो सिर्फ आश्वासन ही दिया जाता है। गांव में शराब की दुकान के संचालन से ग्रामीणों को दिक्कतें हो रही हैं।
ग्रामीणों ने कहा कि गांव में ही स्कूल, कॉलेज व दुर्गा मंदिर है। शराब की दुकान के सामने से ही होकर लोगों को आवागमन करना पड़ता है। अक्सर नशे में धुत शराबी आवागमन करने वालों से अभद्रता करते रहते हैं। जब इसका विरोध किया जाता है, तो धमकियां दी जाती हैं। इससे कई बार असहज स्थिति उत्पन्न होती है। ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि यदि जल्द ही गांव से शराब की दुकान नहीं हटाई गई तो उग्र आंदोलन शुरू किया जाएगा। बाद में शिकायतीपत्र जिलाधिकारी को सौंपा गया।

अंबेडकरनगर। टांडा कोतवाली क्षेत्र के देवहट गांव के ग्रामीणों ने सोमवार को शराब की दुकान हटाने को लेकर कलेक्ट्रेट के पास प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि गांव में संचालित शराब की दुकान से आए दिन असहज स्थिति उत्पन्न होती रहती है। स्कूल व मंदिर जाने वालों को शराब की दुकान के सामने से जाना पड़ता है। ऐसे में अक्सर नशे में धुत शराबी आवागमन करने वालों के साथ अभद्रता करते रहते हैं। शराब की दुकान हटाए जाने की मांग अरसे से की जा रही है, लेकिन जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं। ग्रामीणों ने चेतावनी कि यदि शीघ्र ही शराब की दुकान नहीं हटाई गई, तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। बाद में शिकायतीपत्र जिलाधिकारी को सौंपा।

जयप्रकाश के नेतृत्व में अनीता देवी, प्रभावती, राधा, सोना देवी, उर्मिला, मनीषा, राजकुमारी, शांति देवी, इंद्रावती, उर्मिला चौहान, गीता, रामकरन, रामलौट, परशुराम, अशोक कुमार, राधेश्याम आदि सोमवार को कलेक्ट्रेट के पास पहुंचे। प्रदर्शन करते हुए ग्रामीणों ने कहा कि गांव में स्थित शराब की दुकान को हटाए जाने की मांग अरसे से की जा रही है, लेकिन जिम्मेदारों की ओर से अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है। इसे लेकर जब भी जिम्मेदारों से शिकायत की जाती है, तो सिर्फ आश्वासन ही दिया जाता है। गांव में शराब की दुकान के संचालन से ग्रामीणों को दिक्कतें हो रही हैं।

ग्रामीणों ने कहा कि गांव में ही स्कूल, कॉलेज व दुर्गा मंदिर है। शराब की दुकान के सामने से ही होकर लोगों को आवागमन करना पड़ता है। अक्सर नशे में धुत शराबी आवागमन करने वालों से अभद्रता करते रहते हैं। जब इसका विरोध किया जाता है, तो धमकियां दी जाती हैं। इससे कई बार असहज स्थिति उत्पन्न होती है। ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि यदि जल्द ही गांव से शराब की दुकान नहीं हटाई गई तो उग्र आंदोलन शुरू किया जाएगा। बाद में शिकायतीपत्र जिलाधिकारी को सौंपा गया।

amarujala

Leave a Comment