ऋषभ पंत भारत के लिए अगले 10 साल तक सभी फॉर्मेट में खेलने वाले हैं: किरण मोरे– News18 Hindi

नई दिल्ली. भारतीय टेस्ट टीम के लिए ऋषभ पंत (Rishabh Pant) बल्ले से अपनी टॉप फॉर्म में हैं. हालांकि, उनकी विकेटकीपिंग की क्षमता पर कई सवाल उठ चुके हैं. इंग्लैंड के खिलाफ (India vs England) चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम (Chepauk Stadium) में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में लगातार चौथा अर्धशतक जड़ने के बाद पूर्व भारतीय विकेटकीपर किरण मोरे (Kiran More) ने ऋषभ पंत की विकेटकीपिंग क्षमता को लेकर बात की है. चेन्नई में खेले जा रहे इस टेस्ट मैच में ऋषभ पंत काफी शानदार फॉर्म में हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में उन्होंने 91 रन की पारी खेली थी. इसके बाद दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में वह 58 रन बनाकर नाबाद रहे. ऐसे में किरण मोरे का कहना है कि दिल्ली का यह प्रतिभावान खिलाड़ी अगले 10 साल तक क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में भारत के लिए खेलने वाला है.

किरण मोरे ने इनसाइडस्पोर्ट डॉट.कॉम को दिए एक इंटरव्यू में यह भी कहा कि इस युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज को थोड़ा और सीखने के लिए मदद की जरूरत है. उन्होंने कहा, ”उन्हें मदद की जरूरत है और इसके लिए बीसीसीआई को एक स्पेशलिस्ट विकेटकीपिंग कोच नियुक्त करना चाहिए.” किरण मोरे भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ सलेक्टर रह चुके हैं. वह उन चयनकर्ताओं में से एक थे, जिन्होंने 2004 में महेंद्र सिंह धोनी को सलेक्ट किया था.

IND VS ENG: आर अश्विन के शतक के बाद मोहम्मद सिराज ने मनाया जबर्दस्त जश्न, Video वायरल

किरण मोरे ने यह भी बताया कि ऋषभ पंत कैसे और ज्यादा सीख सकते हैं. उन्होंने कहा, ”ऋषभ पंत अभी युवा हैं और सिर्फ 23 साल के हैं. हम उसे बहुत जल्दी जज कर रहे हैं. वह एक जबरदस्त प्रतिभा हैं. जब एडम गिलक्रिस्ट आए थे, वह भी बतौर कीपर शुरुआत में संघर्ष कर रहे थे. लेकिन फिर वह स्टम्प्स के आगे और पीछे दोनों जगह सुपरमैन बन गए. हमें पंत को वक्त देना होगा. हर कोई हर वक्त उनकी विकेटकीपिंग को देखता रहता है. यह स्वाभाविक है. उन्हें कैचों को लपकने की जरूरत है और स्टंपिंग में भी प्रभाव लाने की जरूरत है. वह नियमित अंतराल पर इन्हें छोड़ नहीं सकते.”

IND VS ENG: गौतम गंभीर ने कसा इंग्लैंड पर तंज, कहा-पिच कैसी भी हो, टैलेंट से मिलते हैं विकेट

पूर्व भारतीय विकेटकीपर ने साथ ही कहा कि यह विकेटकीपर उसी मैच में हमेशा रन भी बनाता है, जहां वह ग्लव्स के साथ शानदार नहीं कर पा रहा है. उन्होंने कहा, ”ऋषभ पंत की विकेटकीपिंग को लेकर हमेशा सवाल उठता है. वह टीम के लिए रन बनाते हैं. वह टीम के लिए मैच जीतते हैं. किस दूसरे विकेटकीपर-बल्लेबाज ने अकेले दम पर टेस्ट मैच जीते हैं? ऋषभ पंत ने यह किया है. वह तीनों फॉर्मेट में भारत के लिए अगले 10 साल तक खेलने वाले हैं. वह बहुत अच्छे विकेटकीपर बनेंगे.”

News 18

Categories Kricket

Leave a Comment