अगर मनुष्य के अंदर कूट कूटकर नहीं भरी है ये एक चीज तो वर्तमान और भविष्य दोनों अंधेरे में



खुशहाल जिंदगी के लिए आचार्य चाणक्य ने कई नीतियां बताई हैं। अगर आप भी अपनी जिंदगी में सुख और शांति चाहते हैं तो चाणक्य के इन सुविचारों को अपने जीवन में जरूर उतारिए।



Source link

Leave a Comment